कलाकारों ने इसे आकार दिया
मिट्टी से मटका बना दिया

श्याम रंग इसका कुछ खास है
इसके चमकने के कई राज़ है
जैसे खास सामग्री और भट्टी की आंच है

‘Handmade’ से नवाजा है इसे
‘Gagri’ नाम से पुकारा है इसे

बारिश में मिट्टी की महक है आई
चरखे पर सवर्ते हुए यादें लाइ
और ‘Classic’ खूबसूरती के साथ आई

इन्हें दो रंगों से सजाया गया
सुनहरा वह काला रंग से समदार किया

मुस्कान बढ़ाने के लिए
आकांक्षा पुरी करने के लिए
आपके कानों में लहर ने के लिए
सपनों के सीढ़ी पर चढ़कर
बनी है ये गगरी |

JYOTI SHUKLA

JYOTI SHUKLA

Jyoti is an MBA in Marketing. Loves to read, tea lover, city explorer and a writes in rhyme! Hopes to see the grey world in black and white!

2 Comments

Leave a Reply